Understanding!!समझ!!

उस जमीन पर खडे होकर जो देती है कदमों को बिसात

बेइंतहां बेमुरव्वत चाहत की तालीम पायी जा सकती है,

दूर दूर तक फैले हैं रेत और मिटटी के जमीनी कैनवास

उम्दा ख्यालों की खूबसूरत तस्वीर बनायी जा सकती है,

हवाओं की तासीर में छिपे होते हैं तमाम नगमाई तराने

जिद सवार हो गर फूलो की मुस्कान चुरायी जा सकती है,

ऊंचे पहाड भी कराते हैं समुन्दर की गहराई का अंदाजा

खुद में उतरकर भी गहराईयों की थाह पायी जा सकती है,

पैमाईश के लिए गैरजरूरी है पैमाना कुछ मुआमलात में

बरसती आंखो से दर्दीली तकलीफ जतायी जा सकती है,

किताबीपढाकू कब समझते हैं खामोश शिकवे शिकायत

बेखुदी के आलम में तन्हां महफिल सजायी जा सकती है,

समझ समझकर समझा देंगे सबको जिंदगी के फलसफे

क्या बियाबान जंगलो को तहजीब सिखायी जा सकती है,

उम्मीदों की इस जमीं पर तामीर किले हैं कितने मजबूत

क्या हवाओ में लहराती हुई बुनियाद बनायी जा सकती है,

सुलझ सुलझकर भी उलझावियत का शिकार हैं उधेडबुनें

शायद पहेली बनकर ही कोई पहेली सुलझाई जा सकती है।

“Pkvishvamitra”

understanding!!

Standing on the ground gives the steps to the chessboard 
Unconditional training can be found, 
Far from far and wide sand canvas canvas 
A beautiful picture of a great idea can be made, 
All winds of hiding are hidden in Nagmai Tarane 
You can ride a stubborn smile of bull flowers, 
High mountains also give an idea of ​​the depth of the sea 
The depth of the depth can be found even by themselves, 
There is no need to measure the scope of measurement 
Severe pain can be expressed from the rainy eyes, 
When do you understand the book 
Relaxation can be decorated in the bedroom of unskilledness, 
Understand and understand everybody’s life 
Whether the bajwa forests can be taught in Tahajibi, 
Thamir fort on this land of hope is so strong 
Can the winding structure be built in air, 
Solve the problems of entanglement and solve the problem 
Perhaps a puzzle can be solved by solving puzzles. 
“Pkvishvamitra”

10 विचार “Understanding!!समझ!!&rdquo पर;

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s